yati narsinghanand saraswati

हरिद्वार में 17 से 19 दिसंबर तक हुई धर्म संसद में नफरती भाषण पर चौतरफा घिरे यति नरसिंहानंद गिरि को शनिवार को उत्तराखंड पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उनको गिरफ्तार कर नगर कोतवाली हरिद्वार लेकर पुलिस आई है। हरिद्वार हेट स्पीच मामले में दूसरी गिरफ्तारी हो गई है। इससे पहले वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र त्यागी को पुलिस ने शुक्रवार को गिरफ्तार किया था। 16 जनवरी यानी कल धर्म संसद पर महापंचायत होनी थी। उससे पहले ही नरसिंहानंद को पकड़ा गया है।

23 दिसंबर को हरिद्वार पुलिस ने जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी उर्फ वसीम रिजवी के खिलाफ नफरती भाषण देने का मुकदमा दर्ज किया था। बाद में इस मुकदमे में नरसिंहानंद गिरी, अन्नपूर्णा उर्फ पूजा शकुनि पांडे, सिंधु सागर, धर्मदास, परमानंद, आनंद स्वरूप समेत 10 लोगों के नाम बढ़ाए गए थे।

हरिद्वार के एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार ने बताया कि जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी उर्फ वसीम रिजवी को गुरुवार देर शाम यूपी और उत्तराखंड के बॉर्डर से गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद उन्हें कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया।