हरियाणा के यमुनानगर के रादौर में एसके रोड पर जलती कार

यमुनानगर :कांवड़ यात्रा के दौरान रविवार की शाम को लगभग 5 बजे एसके रोड पर गांव धौलरा में एक कार चालक ने तेजगति से चलाते हुए 5 कांवड़ियों को रौंद डाला। कार की टक्कर लगने से 3 कांवड़िये बुरी तरह से घायल हो गए,जबकि 2 कांवड़ियों को आंशिक रूप से चोटे आई। दुर्घटना के बाद कार चालक मौके से फरार हो गया। गुस्साए कांवड़ियों ने कार को सड़क किनारे पलट दिया। गुस्साए कांवड़ियों ने सड़क किनारे पलटी कार में आग लगा दी।मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की गाड़ी ने कार में लगी आग को बुझाया।

रादौर में जाम लगा रहे कांवड़ियों को कार्रवाई का आश्वासन देते डीएसपी रजत गुलिया
रादौर में जाम लगा रहे कांवड़ियों को कार्रवाई का आश्वासन देते डीएसपी रजत गुलिया

कांवड़ियों को कार चालक द्वारा टक्कर मारकर बुरी तरह से घायल किए जाने से गुस्साए कांवड़ियों ने एसके रोड पर जाम लगा दिया। गुस्साए कांवड़ियों ने जमकर नारेबाजी करते हुए सरकारी कार्यशैली पर आरोप लगाते हुए कांवडियों ने कहा कि सरकार की ओर से प्रदेश में कांवड़ियों को कोई सुविधा नहीं मिल रही है। न ही कांवड़ियों की सुरक्षा का कोई उचित प्रबंध किया गया है। जिस कारण यह हादसा हुआ। जबकि उत्तर प्रदेश सरकार ने कांवड़ियों के लिए बेहतर प्रबंध किए है।

रादौर में एसके रोड पर नारेबाजी करते कांवडिये।
रादौर में एसके रोड पर नारेबाजी करते कांवडिये।

वहीं सूचना मिलते ही थाना रादौर प्रभारी इंस्पेक्टर राजकुमार मौके पर पहुंचे और गंभीर रूप से घायल कांवड़ियों को इलाज के लिए सिविल अस्पताल यमुनानगर भिजवाया। सूचना मिलने पर एसडीएम रादौर सतेंद्र सिवाच व डीएसपी रादौर रजत गुलिया भारी पुलिसबल के साथ मौके पर पहुंचे और कांवड़ियों को कार चालक के विरूद्ध सख्त कार्रवाई किए जाने का आश्वासन दिया। लेकिन कांवडियों ने उनके आश्वासन पर भी जाम नहीं खोला। जाम लगने से रादौर में एसके रोड पर वाहनों का जाम लग गया। जाम लगने से घंटों वाहन चालकों को जाम की समस्या से जूझना पड़ा। वाहन चालकों को जाम से बचाने के लिए पुलिस ने वाहनों को जठलाना रोड से रवाना किया।

 

रादौर में एसके रोड पर लगा वाहनों का जाम
रादौर में एसके रोड पर लगा वाहनों का जाम

मौके पर मौजूद कांवड़ियों ने बताया कि शाम को लगभग 5 बजे जब वह एसके रोड पर गांव धौलरा से गुजर रहे थे तो एक कार चालक ने तेज गति से चलते हुए कांवरियों को जोरदार टक्कर मार दी। जिस कारण टक्कर लगने से गांव पश्ताना, निगदू, जिला करनाल के रहने वाले राकेश कुमार (30), शिवम (18), सूरज (20) गंभीर रूप से घायल हो गए। जिन्हें इलाज के लिए सिविल अस्पताल यमुनानगर ले जाया गया। जबकि टक्कर लगने से सुनील व मोनू को आंशिक रूप से चोटे आई। कांवडियों ने आरोप लगाया कि कुछ पुलिस कर्मचारियों ने दुर्घटना के बाद कार चालक को मौके से भगा दिया है। जिसके लिए पुलिस जिम्मेदार है। देर शाम तक कांवडियों ने एसके रोड जाम किया हुआ था। उधर सुरक्षा को लेकर प्रशासन की ओर से भारी संख्या में पुलिसबल मौके पर भेजा गया।