उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को मेरठ पहुंचे

मेरठ,(विशेष संवाददाता) -उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को मेरठ पहुंचे। मेरठ पहुंचने पर उन्होंने विकास सम्बंधित अनेक कार्यक्रमों में शिरकत करने के साथ साथ अधिकारीयों और पार्टी के पदाधिकारियों और जंपततिनिधियों के साथ बैठक कर विकास कार्यों की समीक्षा की। मुख़्यमंत्री सुबह लगभग 10.50 के बाद हेलीकॉप्टर से मेरठ पुलिस लाइन बने हैलीपैड पर उतरे। पुलिस लाइन के हेलपैड पर राज्यसभा सांसद डा. लक्ष्मीकांत वाजपेयी, राज्यमंत्री डा. सोमेन्द्र तोमर,सांसद राजेन्द्र अग्रवाल, विधायक अमित अग्रवाल के अलावा संगठन के पदाधिकारियों समेत प्रशासन के आला अधिकारियों ने सीएम योगी का स्वागत किया।

☛ Like us: Youtube channel : https://www.youtube.com/channel/UCLynGO6dgXpSnEsD_4DJbAw

मेरठ आगमन पर सीएम योगी ने अपने निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार पुलिस लाइन में नगर निगम की 76 डोर-टू-डोर कूड़ा गाड़ी,पांच कंपैक्टर और एक सड़क सेविंग मशीन व स्प्रिंकलर मशीन का हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। नगर निगम ने सभी गाड़ियों को फूल मालाओं से सजाया हुआ था। इस दौरान मंच पर महापौर सुनीता वर्मा, राज्यसभा सदस्य डॉ. लक्ष्मीकांत बाजपेई, राज्यमंत्री सोमेंद्र तोमर, जिला अध्यक्ष,जिला पंचायत अध्यक्ष,महानगर अध्यक्ष,राज्यसभा सदस्य विजयपाल तोमर,कैंट विधायक अमित अग्रवाल समेत सभी भाजपा नेता कार्यक्रम में उपस्थित रहे।

☛Follow us : Twitter : https://twitter.com/crimesansar

पुलिस लाइन में नगर निगम की गाड़ियों को हरी झंडी दिखाकर रवाना करने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मेरठ कमिश्नरी सभागार पहुंचे। उनके साथ प्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री और जिले के प्रभारी मंत्री नंद गोपाल नंदी भी थे । सीएम योगी के सामने कमिश्नरी सभागार में हर घर तिरंगा,गन्ना भुगतान समेत 15 योजनाओं का प्रस्तुतिकरण किया गया । इस दौरान अधिकारीयों और पार्टी के पदाधिकारियों और जनप्रतिनिधि के अलावा मंडल के शेष जिलों के अधिकारी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े। विकास कार्यों और कानून व्यवस्था की कमिश्नरी सभागार में समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को मेरठ मंडल के जिलों में बेहतर माहौल बनाकर औद्योगिक निवेश बढ़ाने के लिए निर्देशित किया। साथ ही जनप्रतिनिधियों से संवाद बनाए रखने और उनकी समस्याओं का प्राथमिकता से निस्तारण करने के लिए भी मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए।

☛ Subscribe to our Youtube Channel – Crime Sansar News

कमिश्नरी सभागार में चली मैराथन समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री का पूरा जोर आमजन के लिए चलाई जा रही सरकार की प्राथमिकता में शामिल योजनाओं का लाभ पहुंचाने पर रहा। मुख्यमंत्री ने मुख्य रूप से अधिकारियों को सड़कों से अतिक्रमण हटाने और अवैध वसूली करने वालों पर सख्त कार्रवाई करने के लिए निर्देशित किया। अधिकारियों को अपने कार्यालय में बैठकर जन सुनवाई करने और समस्याओं के प्राथमिकता से निस्तारण करने के साथ जनप्रतिनिधियों से संवाद बनाए रखने पर भी जोर दिया। समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिकारी जनप्रतिनिधियों द्वारा रखी गई समस्याओं का प्राथमिकता से निस्तारण करें और उन्हें समय से अवगत भी कराएं। मुख्यमंत्री ने बैठक में मौजूद हर जनप्रतिनिधि से अपने क्षेत्र को लेकर विकास कार्यों का प्रस्ताव भी मांगा। कई जनप्रतिनिधियों ने अपना प्रस्ताव मुख्यमंत्री के समक्ष प्रस्तुत किया। समीक्षा बैठक में मंडल के छह जिलों में हुए गन्ना भुगतान का ब्योरा भी अधिकारीयों द्वारा सीएम के समक्ष रखा गया। समीक्षा के दौरान अमृत सरोवर,प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, प्रधानमंत्री स्वनिधि, टैबलेट और स्मार्टफोन वितरण,निराश्रित गोवंश आश्रय स्थल,जल जीवन मिशन,पीएम आवास, कोरोना टीकाकरण, घरौनी वितरण, आईजीआरएस,रोजगार सृजन,गन्ना मूल्य भुगतान,स्कूल चलो अभियान,ऑपरेशन कायाकल्प में मंडल की स्थिति का प्रस्तुतिकरण किया। प्रेजेंटेशन में योजनाओं के लाभार्थियों के फोटो भी लगाए गए । मेरठ जिलाधिकारी दीपक मीणा ने नवाचार पर भी एक रिपोर्ट मुख्यमंत्री के सामने प्रस्तुत की।

☛ Follow us- Facebook : https://facebook.com/crime.sansar

कमिश्नरी सभागार से बैठक के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कुछ देर सर्किट हाउस रुके उसके बाद उनका काफिला सर्किट हाउस से सीधा चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय पहुंचा। विश्वविद्यालय में बने नेताजी सुभाष चन्द्र बोस प्रेक्षागृह में अभ्युदय योजना के तहत 300 छात्र-छात्राओं को टेबलेट और स्मार्टफोन वितरित किये। इसके अलावा भू-स्वामित्य योजना के तहत पात्र लोगों को घरौनी वितरण किये।विश्वविद्यालय में कार्यक्रम के दौरान मंच से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मेरा सौभाग्य है आज मुझे भारत की ऐतिहासिक भूमि पर आप सब के साथ संवाद करने का सौभाग्य मिला। ।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्पोर्ट्स नगरी मेरठ की बात करते हुए कहा कि अब मेरठ में जल्द ही स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी बन जाएगी। प्रदेश सरकार ने हर ग्राम पंचायत में खेल का मैदान और ओपन जिम बनाने की तैयारी शुरू कर दी जिसके लिए ग्राम पंचायत, नगर निकाय को जोड़ना पड़ेगा और गांव के उन लोगों को भी जोड़ना पड़ेगा जो रोजगार के अवसर ढूंढने के लिए गाँव से बाहर चले गए हैं। फिर उन्हें निवेश के लिए प्रेरित करना पड़ेगा ताकि हमारे युवा सार्थक दिशा में आगे बढ़ सके।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ में युवाओं को साधते हुए कहा कि हमारे प्रदेश में 25 करोड़ की आबादी है ये हमारे लिए बड़ी उपलब्धि है। सबसे बड़ी बात यह है कि मेरे प्रदेश में सबसे ज्यादा और सबसे अच्छे युवा हैं, उन युवाओं को भी समय के अनुरूप लेकर चलना है। तो वहीं मुख्यमंत्री ने उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर फक्र करते हुए कहा कि आज उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पूरे देश में नजीर मानी जाती है। यहां कानून किसी के साथ खिलवाड़ करने की छूट नहीं देता लेकिन अपराधियों को किसी भी कीमत पर बक्सा नहीं जाता।