मेरठ के जिलाधिकारी दीपक मीणा ने MDA पहुंचकर संभाला VC का अतिरिक्त प्रभार

मेरठ के जिलाधिकारी दीपक मीणा ने 5 अगस्त को शासन के निर्देशानुसार मेरठ विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष पद का अतिरिक्त प्रभार भी ग्रहण कर लिया। उन्होंने शुक्रवार को अतिरिक्त उपाध्यक्ष का प्रभार ग्रहण करने के बाद प्राधिकरण के कार्यालय में पहुंचकर अधीनस्थ अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए उचित दिशा निर्देश जारी किए। बैठक के बाद जिलाधिकारी ने पत्रकारों से भी बात की।पत्रकारों से बात करते हुए प्राधिकरण प्रभारी उपाध्यक्ष/ जिलाधिकारी प्राधिकरण की समस्याओं से भी रूबरू हुए।

☛ Like us: Youtube channel : https://www.youtube.com/channel/UCLynGO6dgXpSnEsD_4DJbAw

दरहसल, मेरठ विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष मृदुल चौधरी का तबादला शासन द्वारा लखनऊ कर दिया गया है। उन्हें शासनादेश से लखनऊ में प्रशासक, ग्रेटर शारदा सहायक सामादेश क्षेत्र के पद पर नियुक्त किया गया है। लखनऊ तबादला हो जाने के उपरांत तत्कालीन उपाध्यक्ष ने 2 अगस्त को मेरठ विकास प्राधिकरण का चार्ज प्राधिकरण के सचिव चंद्रपाल तिवारी को सौंपते हुए नया पदभार ग्रहण कर लिया था। उसके बाद से मेरठ प्राधिकरण के सचिव चंद्रपाल तिवारी को अतिरिक्त उपाध्यक्ष का प्रभार मिल गया था। सूत्रों कि यदि खबर को सही माने और प्राधिकरण में आम होती चर्चा पर भी यदि ध्यान दिया जाए तो प्राधिकरण के सचिव को उपाध्यक्ष का अतिरिक्त प्रभार मिलने के बाद सच्ची द्वारा उपाध्यक्ष कार्यालय में उपाध्यक्ष की कुर्सी पर बैठने के कारण उनसे शासन ने वी सी का चार्ज लेकर मेरठ के जिलाधिकारी आईएएस दीपक मीणा को चार्ज सौंप दिया।

☛ Subscribe to our Youtube Channel – Crime Sansar News

मेरठ के जिलाधिकारी दीपक मीणा द्वारा मेरठ विकास प्राधिकरण का उपाध्यक्ष का पदभार ग्रहण करने के बाद प्राधिकरण कार्यालय में अधीनस्थ कर्मचारियों और अधिकारियों के साथ बैठक की। आईएएस दीपक मीणा ने बैठक में अवैध निर्माण पर भी गहन चर्चा की। जिसके बाद से ही जोनल और अवर अभियंताओं में हड़कंप मचा हुआ है। जिलाधिकारी ने स्पष्ट निर्देशित किया है कि प्राधिकरण केवल नोटिस कटवा ही ना बने। जोनल अधिकारी और अवर अभियंता प्राधिकरण के राजस्व में बढ़ोतरी के लिए भी प्रयास करें। बैठक के बाद पत्रकारों से बात करते हुए मेरठ के जिलाधिकारी/ उपाध्यक्ष मेरठ विकास प्राधिकरण ने प्राधिकरण में आ रही समस्याओं के बारे में जाना और साथ ही उन्होंने मुख्यालय से बाहर रहने वाले अधिकारियों के बारे में भी पत्रकारों से जानकारी ली। साथ ही उन्होंने पत्रकारों से जोनल और अवर अभियंताओं के कार्यशैली की भी जानकारी ली। उन्होंने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि जल्द ही शासन ने जो उन्हें कार्य सौंपा है उसको लेकर वह राजस्व बढ़ोतरी के लिए अधिक से अधिक प्रयास करेंगे।