इनामी डाकू छेदा सिंह

कुदरत की माया… फूलन देवी को लोकसभा भेजने वाले और सैफई मेडिकल कॉलेज बनवाने वाले समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव के सैफई मेडिकल कॉलेज में फूलन देवी का अपहरण करने वाले की हुई मौत।

इटावा । चंबल की महिला डाकू फूलन देवी का अपहरण करने वाले इनामी डाकू छेदा सिंह की सोमवार की शाम इलाज के दौरान सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी में मौत हो गई। डाक्‍टरों के अनुसार उसे टीबी की बीमारी थी। 26 जून को औरैया पुलिस ने छेदा सिंह को गिरफ्तार किया था और 27 जून को इटावा जेल में दाखिल किए जाने के वक्त उसकी तबियत बिगड़ गई, जिसके बाद छेदा सिंह को सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी में भर्ती करा दिया गया था। टीवी रोग से बीमार छेदा सिंह की इलाज के दौरान की सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी के अस्पताल में मौत हो गयी। खबर की पुष्टि करते हुए वरिष्ठ जेल अधीक्षक डॉ. रामधनी ने बताया सोमवार देर शाम छेदा सिंह की इलाज के दौरान मौत हो गई।

☛ Like us: Youtube channel: https://www.youtube.com/channel/UCLynGO6dgXpSnEsD_4DJbAw

औरैया जिले के अयाना के भासौन के गांव का रहने वाला छेदा सिंह ने 1981 में फूलन देवी का अपहरण किया था। डाकू छेदा सिंह पर गिरफ्तारी के समय 50 हजार का इनामी था जिसको 24 साल बाद 26 जून 2022 को गिरफ्तार किया गया था । उस समय की खबरों को सत्य माने तो छेदा सिंह बीहड़ के बेताज बादशाह रहे लालाराम श्री राम गैंग का सक्रिय था। यह इनामी डकैत साधु वेष में चित्रकूट के एक मठ में छिपा था। उस पर आरोप है कि 1981 में बेहमई कांड से पहले जब फूलन देवी का अपहरण विक्रम मल्लाह के ठिकाने से किया गया था तो वह भी उसमें शामिल था। लालाराम गैंग खत्म होने के बाद धीरे-धीरे पूरा गैंग समाप्त होने लगा तो छेदा सिंह नाम और हुलिया बदलकर वह चित्रकूट में रहने लगा।

☛ Subscribe to our Youtube Channel – Crime Sansar News

चित्रकूट में वह पहले काशी घाट में रहा और अब दस सालों से जानकी कुंड के आराधना आश्रम में सेवादार के रूप में काम करने लगा। छेदा सिंह के खिलाफ विभिन्न थानों में 21 मुकदमे दर्ज है। उसके पास से बृजमोहन दास, चित्रकूट के नाम से फर्जी आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी व राशन कार्ड बरामद हुए हैं।