n1

मेरठ में शनिवार सुबह पैसेंजर ट्रेन के इंजन और दो कोच में आग लग गई। यह हादसा मेरठ शहर से 18 किमी. दूर दौराला स्टेशन पर हुआ। सहारनपुर से दिल्ली की तरफ जा रही ट्रेन मेरठ के दौराला स्टेशन पर खड़ी थी। अचानक ट्रेन के कोच में धुआं उठने लगा। आनन-फानन में रेलवे कर्मचारियों ने आग लगे इंजन और दो डिब्बों को अलग किया। इसके बाद यात्रियों ने धक्का लगाते हुए ट्रेन की अन्य बोगियों को आग से बचाया।

शनिवार सुबह सहारनपुर से दिल्ली जा रही पैसेंजर ट्रेन के दो कोचों में आग के अफरातफरी मच गई। सकौती से जब ट्रेन से रवाना हुई तो रास्ते में गेटमैन ने रेलगाड़ी के नीचे से धुआं उठता देखा। जिसके बाद उसने स्टेशन मास्टर को सूचना दी। क्योंकि ट्रेन रास्ते में थी इसलिए सकौती स्टेशन मास्टर ने दौराला स्टेशन मास्टर सूचना दी। सुबह 7.14 बजे सुबह जब तक ट्रेन दौराला स्टेशन पहुंचीतब तक आग ने विस्तार ले लिया थाजिस वजह से प्लेटफार्म पर कुछ पहले ही ट्रेन को रोक दिया गया। आनन-फानन में यात्री कोचों से बाहर आए। बाकी डिब्बों में आग ना फैलने पाए इसके लिए डिब्बों को अलग करने की कार्रवाई आरंभ की गई। दो डिब्बों को जोड़ने वाली कपलिंग न खुलने पर उसे तोड़ना पड़ा। इस प्रक्रिया में तीसरा डिब्बा भी कुछ आग की चपेट में आ गया। सहारनपुर दिल्ली पैसेंजर ट्रेन के दो कोच में आग लगने के बाद अन्य कोच को बचाने के लिए रेलवे के स्टाफ और यात्रियों ने धक्का लगाकर ट्रेन को आगे स्टेशन की ओर बढ़ाया। धक्का देकर कोचों को जल रहे डिब्बों से अलग किया।

इंस्पेक्टर दौराला नरेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि पुलिस मौके पर है। उच्च अधिकारियों को अवगत कराया गया है। मुख्य अग्नि शमन अधिकारी संतोष कुमार राय ने बताया कि आग पर काबू पा लिया गया है।